नईदिल्ली। कोविड-19 के उभरते नए वैरिएंट के नियंत्रण और प्रबंधन के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रतिक्रिया उपायों के रूप में केंद्र द्वारा अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों के लिए जारी किए गए दिशानिर्देशों के परिसंचालन के पहले दिन छह यात्रियों में कोविड के संक्रमण की पुष्टि हुई है। गौरतलब है कि डब्ल्यूएचओ ने इसे वेरिएंट ऑफ कन्सर्न (वीओसी) की संज्ञा दी है।

देश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 9,765 नए मामले सामने आने से क्रसंमितों की संख्या बढक़र 3,46,06,541 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढक़र 99,763 हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बृहस्पतिवार को जारी आंकड़े से यह जानकारी मिली। सुबह आठ बजे अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, 477 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढक़र 4,69,724 हो गई है। इनमें केरल में 403 मरीजों की मौत हुई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट
स्वास्थ्य मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार दैनिक संक्रमण दर 0.89 प्रतिशत है। यह पिछले 59 दिन से दो प्रतिशत से कम बनी हुई है। साप्ताहिक संक्रमण दर 0.85 प्रतिशत है जो बीते 18 दिनों से एक प्रतिशत से कम है। संक्रमण से उबरने वाले लोगों की संख्या बढक़र 3,40,37,054 हो गई है जबकि मृत्यु दर 1.36 प्रतिशत है। देश में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद से अब तक कोविड-19 रोधी टीके की 124.96 करोड़ से अधिक खुराक दी गई है।
यह थे पिछले साल आंकड़े
देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, इस साल चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे। देश में 477 और मरीजों की मौत हुई, उनमें 28 महाराष्ट्र से हैं।
नई गाईडलान जारी
लखनऊ को छोडक़र देश के विभिन्न हवाई अड्डों पर आज आधी रात से शाम 4 बजे तक कुल 11अंतरराष्ट्रीय उड़ानें ‘जोखिम वाले’ देशों से पहुँची। इनमें 3476 यात्री सवार थे। सभी 3476 यात्रियों की आरटी पीसीआर जांच की गई, जिसमें से केवल 06 यात्रियों मेंही कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है। कोविड-19 की पुष्टि वाले यात्रियों के सैम्पलों को संपूर्ण जीनोमिक सीक्वेंसिंग के लिए आईएनएसएसीओजीलैब में भेज दिया गया हैं। भारत सरकार ‘संपूर्ण सरकार’ के दृष्टिकोण के माध्यम से कोविड-19 की इस बदलती हुई स्थिति पर नजऱ रख रही है और महामारी के खिलाफ लड़ाई में राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों की सहायता कर रही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here