भोपाल। त्रिस्तरीय पंचायती चुनाव के पहले चरण के चुनाव 25 जून को हो गए गए। जिसमें इंदौर, नरसिंहपुर, भोपाल, ग्वालियर में मतदान हो गया। मतदान होने के गाद से ही जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर अपने उम्मीदवार को बैठाने की कवायतें दोनों दलों में तेज हो गई है। बतादें कि प्रारंभिक रूझान में भोपाल में कांग्रेस की दावेदारी मजबूत दिखाई दे रही है। तो इंदौर में भाजपा अपनी जीत के दावे कर रही है।
भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और नरसिंहपुर में जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी को लेकर जोड़-तोड़ शुरू हो गई है। यहां पहले चरण में पंचायत चुनाव हो चुके हैं। जिपं सदस्यों को लेकर तस्वीर भी लगभग साफ हो गई है। ये सदस्य जिपं अध्यक्ष का चुनाव करेंगे। नेता एक-दूसरे को साधने में जुट गए हैं। भोपाल में कांग्रेस का दावा मजबूत है, तो इंदौर, ग्वालियर और नरसिंहपुर में भाजपा आगे बताई जा रही है। चार जिपं के साथ 115 जनपदों में भी अध्यक्ष की कुर्सी के लिए अब दांव-पेंच होंगे।
प्रदेश की 115 जनपदों की 8702 ग्राम पंचायतों में पहले चरण की वोटिंग और काउंटिंग पूरी हो चुकी है। इंदौर, भोपाल, ग्वालियर और नरसिंहपुर जिले में पहले चरण में ही चुनाव करा लिए गए। पंच-सरपंच के साथ जनपद और जिपं सदस्य के रुझान भी सामने आ चुके हैं। क्चछ्वक्क और कांग्रेस अब सदस्यों को साधने में लगी है, ताकि जनपद और जिला पंचायत की कुर्सी पर कब्जा जमा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here