नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सुरक्षा में चूक को लेकर गृहमंत्रालय ने पंजाब पुलिस से सवाल किए है। गौरतलब हो कि बुधवार को पंजाब में चुनावी रैली को संबोधित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी फिरोजपुर जा रहे थे। लेकिन गनतव्य स्थान से लगभग 30 किमीटर दूर ही प्रर्दशनकारियों ने रास्ता जाम कर दिया। जिससे के चलते रैली को रद्द कर दिया गया है। समाचार एजेंसी के मुताबिक प्रधानमंत्री को जाम के कारण 30 मिनिट तक जाम में फसे रहना पड़ा। इस लापरवाही के कारण पंजाब पुलिस सवालों के घेरे में आ गई है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पंजाब के फिरोजपुर रैली रद्द हो गई है। जानकारी के मुताबिक, गृह मंत्रालय ने एक बयान जारी करके बताया है कि पीएम की सुरक्षा में चूक के कारण फिरोजपुर की रैली रद्द की गई। नए कृषि कानूनों के रद्द होने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी पहली बार पंजाब दौरे पर जाने वाले थे और फिरोजपुर के लिए रवाना भी हो गए थे, लेकिन सुरक्षा कारणों के चलते रैली रद्द करनी पड़ी।

15-20 मिनट फ्लाईओवर पर फंसे रहे पीएम 
पंजाब पुलिस के आला अधिकारी द्वारा बताया गया कि पीएम जब हुसैनीवाला में राष्ट्रीय शहीद स्मारक से लगभग 30 किलोमीटर दूर रास्ता जाम किया गया था। जब पीएम का काफिला एक फ्लाईओवर पर पहुंचा, तो पाया कि कुछ प्रदर्शनकारियों ने सडक़ को अवरुद्ध कर दिया था। इसके बाद पीएम मोदी 15-20 मिनट फ्लाईओवर पर फंसे रहे। यह पीएम की सुरक्षा में एक बड़ी चूक थी।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मांगी विस्तृत रिपोर्ट
गृह मंत्रालय ने बताया, प्रधानमंत्री के कार्यक्रम और यात्रा की योजना के बारे में पंजाब सरकार को पहले ही बता दिया गया था. प्रक्रिया के अनुसार उन्हें सुरक्षा के साथ-साथ आकस्मिक योजना तैयार रखने के लिए आवश्यक व्यवस्था करनी होगी। साथ ही आकस्मिक योजना के मद्देनजर पंजाब सरकार को सडक़ मार्ग से किसी भी आंदोलन को सुरक्षित करने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा तैनात करनी होगी, जो स्पष्ट रूप से तैनात नहीं थे। इस सुरक्षा चूक के बाद, बठिंडा हवाई अड्डे पर वापस जाने का निर्णय लिया गया। गृह मंत्रालय ने सुरक्षा में इस गंभीर चूक का संज्ञान लेते हुए राज्य सरकार से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। राज्य सरकार को भी इस चूक की जिम्मेदारी तय कर सख्त कार्रवाई करने को कहा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here