महाराष्ट्र के माटुंगा इलाके में एक स्कूल में सीएए के जागरूकता कार्यक्रम को लेकर विवाद बढ़ता ही जा रहा है. जहां पहले महाराष्ट्र सरकार ने स्कूल को इस कार्यक्रम के लिए नोटिस भेजा. जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नोटिस भेजने को लेकर भड़की हुई है. बीजेपी के नेता ने माटुंगा की पुलिस चौकी में शिक्षा विभाग के अधिकारियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई और सरकार के ऊपर आरोप लगाया कि सत्ता के जरिए पाठशालाओं में दहशत फैला रही है.

बीजेपी नेता किरीट सोमैया ये भी दावा कर रहे है की शिक्षा विभाग के अधिकारियों से उनकी बात हुई और वह कह रहे हैं कि अब मामला खत्म हो गया है क्योंकि कार्यक्रम स्कूल में नहीं हुआ है.

चढ़ा राजनीतिक रंग

दरअसल, माटुंगा के दयानंद विद्यालय के कुछ छात्र सीएए जागरूकता कार्यक्रम में शामिल हुए थे जिसपर महाराष्ट्र के स्कूली शिक्षा मंत्री ने मामले की जांच के आदेश दिए और स्कूल को कारण बताओ नोटिस भेज दिया गया. इस मामले में शिवसेना नेता आदित्य ठाकुर ने भी अपना विरोध दर्ज कराया था कि स्कूलों में राजनीति नहीं करनी चाहिए जिसके बाद मामले में राजनीतिक रंग चढ़ा.

स्कूल ने किया कार्यक्रम से इनकार

बीजेपी कह रही है की संस्थाओ को टारगेट करने के लिए नोटिस भेजा जा रहा है. बीजेपी दावा कर रही सरकार नियमों का दुरुपयोग कर संस्थाओं को निशाने पर ले रही. एबीपी न्यूज़ को पता चला है की स्कूल ने ऐसे किसी कार्यक्रम से इनकार कर दिया है.

माटुंगा पुलिस स्टेशन पहुंचे बीजेपी नेता किरीट सोमैया शिक्षा विभाग के अधिकारियों पर भड़के दिखे पूछा कि अधिकारी संसद से पास राष्ट्रपति से मान्यता मिले हुए कानून पर आखिर सवाल कैसे खड़ा कर सकते हैं. अधिकारी पर पद के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए बीजेपी यह मांग कर रही है कि अधिकारी पर सख्त एक्शन लिया जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *