भोपाल। देश-दुनिया में लगातार बढ़ रहे ओमीक्रोन के दायरे से दुनियां भर में दहशत का माहौल है। वहीं भारत में भी लगातार कोरोना मरीजों की संख्या में अचानक से आए उछाल ने सभी को सोचने पर विवश कर दिया है। इसके साथ ही मध्यप्रदेश में भी कोरोना के मरीजों की संख्या में इजाफा देखा गया है। लिहाजा प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अब एक्शन मोड में दिखाई दे रहे है। यही कारण है कि विगत दिनों कोरोना की तैयारियों को लेकर कलेक्टरों से वर्चुअल बैठक की गई और बीते दिन मंत्रीमंडल की बैठक भी हुई। जिसके बाद शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह हमीदिया हास्पिटल पहुंचे। जहां उन्होने स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया है।
कोरोना की रफ्तार पिछले कुछ दिनों से बढ़ी है। इस लिए सरकार ने इसको लेकर तैयारियां करना प्रारंभ कर दी है। प्रारंभिक तौर पर एक महीने की दवाओं और ऑक्सीजन का इंतजाम करने के निर्देश दिए है। आप को बता दें किे मध्य प्रदेश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 77 नए केस मिले हैं। सबसे ज्यादा 43 पॉजिटिव इंदौर में मिले हैं। इनमें से एक ओमिक्रॉन संक्रमित भी है। राज्य में अब नए वैरिएंट के 10 केस हो गए हैं। कहा जा रहा है कि इंदौर में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से कोरोना विस्फोट हुआ है। यहां विदेश से लौटे लोगों के ठीक से नाम-पते भी नोट नहीं किए गए। राज्य में एक दिन पहले 72 केस थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here