भोपाल। प्रदेश की तीनों विद्युत वितरण कंपनियों द्वारा रबी सीजन में विद्युत प्रदाय हेतु वितरण ट्रांसफार्मर की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने की कार्य योजना पर अमल प्रारम्भ कर दिया गया है। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बताया है कि तीनों वितरण कम्पनियों में स्थापित एनएबीएल प्रमाणित परीक्षण प्रयोगशाला के माध्यम से नवीन एवं रिपेयर्ड वितरण ट्रांसफार्मर के शत-प्रतिशत परीक्षण से गुणवत्ता सुनिश्चित होगी। साथ ही फेल्योर दर में कमी आएगी। वर्तमान में तीनों वितरण कम्पनियों के पास कुल 33 हजार 151 नवीन और रिपेयर्ड ट्रांसफॉर्मर उपलब्ध हैं।

इस वित्तीय वर्ष में सितंबर 2021 तक कुल 36 हजार 400 खराब वितरण ट्रांसफार्मरों को बदला गया है। आगामी तीन माहों में 39 हजार 500 नवीन एवं रिपेयर्ड वितरण ट्रांसफॉर्मर उपलब्ध होंगे। इस प्रकार वर्तमान रबी सीजन में फेल्योर दर को कम करने के साथ खराब वितरण ट्रांसफार्मर को बदलने की पर्याप्त व्यवस्था की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here