राजनीति के लिए सबसे घातक हैं शरद पवार: उद्धव ठाकरे

मुंबई। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने एक बार फिर से अपनी पार्टी और अपने पिता बाला साहेब ठाकरे की भाषा बोलनी शुरू कर दी है। एक रैली को संबोधित करते हुए उनके निशाने पर जहां एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार रहे वहीं उन्होंने शरद पवार की पार्टी के नेताओं के पर कतरने पर राज्य के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण की तारीफ भी की। उन्होंने कहा कि शरद पवार राजनीति के लिए सबसे घातक हैं। जिस कांग्रेस ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया उसी कांग्रेस की गोद में शरद पवार सिर्फ अपनी राजनीति चमकाने के चलते बैठ गए।

मुंबई के आजाद मैदान में सोमवार को एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जिस वक्त राज्य भयंकर सूखे से जूझ रहा था उस वक्त शरद पवार को इसलिए नींद नहीं आई क्योंकि उनके ही एक मंत्री के पास अपार धन संपत्ति थी। उन्होंने कहा कि अपनी राजनीति की नैया पार करने के लिए शरद पवार ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया। उन्होंने कहा कि शरद के भतीजे राज्य की सत्ता में एक ऐसे मंत्री हैं जिनके पास कोई काम ही नहीं है। वह मुंबई के आजाद मैदान में करीब 34 ट्रेड यूनियनों के कार्यकर्ताओं को 20 और 21 फरवरी को होने वाली हड़ताल के बाबत संबोधित कर रहे थे।

शिवसेना ने इस हड़ताल का आह्वान बढ़ती महंगाई, बढ़ते निजीकरण और मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ किया है। उद्धव ने हड़ताल के मद्देनजर हाईस्कूल परीक्षाओं को दो दिन बाद कराने की भी मांग की है। वहीं राज्य के मुख्यमंत्री ने ट्रेड यूनियनों से हड़ताल पर न जाने की अपील की है।