राहुल को पीएम पद से नहीं है ऐतराज

Tatpar 15/Jan/2014

नई दिल्ली। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री बनने से इन्कार न करते हुए कहा है कि उन्हें पार्टी की ओर से जो भी जिम्मेदारी दी जाएगी उसे वो निभाएंगे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बहन प्रियंका गांधी की चुनावी भूमिका नहीं होगी। इस बीच, भाजपा ने कहा है कि राहुल एक विशेष परिवार से ताल्लुक रखते हैं इसलिए पीएम उम्मीदवार घोषित होने जा रहे हैं। एक अखबार को दिए साक्षात्कार में राहुल गांधी ने कहा कि हम एक लोकतांत्रिक संगठन हैं। हमें लोकतंत्र में विश्वास है।

देश की जनता अपने चुने हुए प्रतिनिधियों के द्वारा यह तय करेगी कि कौन प्रधानमंत्री होगा। देशहित में कांग्रेस का सत्ता में आना जरूरी है और इसके लिए संगठन ने जो भी जिम्मेदारी दी है या आगे देगी, उसे मैं पूरी निष्ठा से निभाऊंगा। भाजपा के कांग्रेस मुक्त भारत और नरेंद्र मोदी के सवाल पर राहुल ने कहा कि भाजपा एक व्यक्ति आधारित राजनीति कर रही है, जो देशहित में नहीं है।

सत्ता किसी एक व्यक्ति की सोच और उसके अपने तरीके से नहीं चलनी चाहिए। सबको साथ लेकर देश के 120 करोड़ लोगों का भविष्य संवारा जा सकता है। कांग्रेस इस देश के डीएनए में है। इसने देश में लोगों को जोड़कर रखा है। बहन प्रियंका गांधी की चुनावी भूमिका पर राहुल ने कहा कि वह मेरी बहन-दोस्त और कांग्रेस की सक्रिय कार्यकर्ता हैं।