रेसकॉर्स में उमड़ा अपार जनसैलाब, नमो ने किया स्वर कोकिला का सम्मान

Tatpar 28/01/2014

मुंबई। महालक्ष्मी रेसकॉर्स सोमवार को ऐतिहासिक घटना का गवाह बना। स्वर साम्राज्ञी लता मंगेशकर ने लोगों के अनुरोध पर मशहूर देशभक्ति गीत ऐ मेरे वतन के लोगों की कुछ पंक्तियां गाकर भावविभोर एवं मंत्रमुग्ध कर दिया। शहीद गौरव समिति की ओर से आयोजित इस समारोह में भाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार और गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद थे। इस अवसर पर मोदी ने लता मंगेशकर को सम्मानित किया।

समारोह में शामिल होने के लिए भारी संख्या में लोग पहुंचे थे। साल 1963 को याद करते हुए लता जी ने कहा कि तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने अपने आवास पर मुझे चाय पर बुलाया था। लता ने कहा, मैं नेहरू जी के आवास पर पहुंची और अकेले में खड़ी हो गई। मुझे ढूंढते हुए इंदिरा जी आईं। वहां पर उन्होंने मुझे राजीव गांधी और संजय गांधी से मिलवाया। उन्होंने मेरे साथ फोटो खिंचवाया। लता ने कहा कि 1962 की लड़ाई से नेहरू जी बड़े दुखी थे। सबके ऊपर दुख की छाया थी। पूरी दिल्ली गंभीर हो गई थी। उस हालत में मैंने यह गाना गाया था। आज तक मैंने जितने भी शो किए हैं, हर जगह मुझे यह गीत गाना पड़ता था।

हर जगह लोग मुझसे यही गाना सुनना चाहते थे। स्वर साम्राज्ञी लता जी ने कहा, मैं लोगों की आभारी हूं कि उन्होंने भाई नरेंद्र मोदी जी से मिलवाया। समारोह में करीब एक लाख लोग मौजूद थे। आयोजक मलाबार हिल विधायक मंगलप्रभात लोढ़ा, समाजसेवी श्रीमती मंजू लोढ़ा ने अतिथियों का सत्कार किया। समारोह में शहीदों को याद किया गया। समारोह में लता के साथ जंग के नायकों और उनके परिवार के लोगों को सम्मानित किया गया। लता ने 27 जनवरी, 1963 को पहली बार ऐ मेरे वतन के लोगों गीत को गाया था, तो देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित नेहरू समेत कई लोगों की आंखें नम हो गईं थीं।