लख़नऊ। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत बुधवार को दोपहर बाद चार बजे रामजन्मभूमि पहुंचे। उन्होंने पहले रामलला का दर्शन पूजन किया, आरती उतारी। प्रसाद ग्रहण किया। इसके बाद में मंदिर निर्माण की प्रगति देखने निर्माण स्थल पहुंचे, जहां चल रहे निर्माण कार्यों को देखा। नींव ढलाई से लेकर राफ्ट ढालने की प्रक्रिया के बारे में उन्हें जानकारी दी गई। मंदिर के परकोटे के क्षेत्रफल के बारे में जानकारी दी गई।

श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपतराय ने संघ प्रमुख को मंदिर निर्माण के बारे में जानकारी दी। किस क्षेत्र में मंदिर का गर्भगृह निर्मित होगा, उसके बारे में बताया गया। इसके साथ ही मंदिर निर्माण से जुड़ी भावी योजनाओं, परिसर के विकास का प्रारूप बताया गया। संघ प्रमुख निर्माण स्थल पर स्थित कार्यदायी संस्था के कार्यालय में बैठे और ट्रस्टियों से मंत्रणा की। रामलला का दर्शन करके वे लखनऊ के लिए रवाना हो गए। रामजन्मभूमि परिसर में आधे घंटे रहे। इससे पहले मंदिर परिसर पहुंचने पर मोहन भागवत की अगुवानी श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपतराय, ट्रस्टी डॉ.अनिल मिश्रा, राजा अयोध्या बिमलेंद्र मोहन मिश्रा, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा, एसएसपी शैलेष पांडेय, हनुमानगढ़ी के पुजारी रमेश दास ने की।
उन्होंने सफल कार्यक्रम के लिए इन स्वयंसेवकों की पीठ थपथपाई। कहा, कार्यक्रम की समाप्ति के बाद समीक्षा करें, जो भी कमियां रह गईं हैं, उनकी पहचान करें, जिससे आने वाले कार्यक्रमों में कोई भी कमी न रहने पाए। उन्होंने कहा कि कम संसाधनों में अच्छी तैयारी की गई। पहले शारीरिक प्रमुखों के प्रशिक्षण के विभिन्न आयामों का निरीक्षण किया। समूचे कारसेवकपुरम का अवलोकन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here