भोपाल। लगातार पैर पसार रहे कोरोना को ध्यान में रखते हुए मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने शुक्रवार को एक बढ़ा फैसला लिया। क्राइसिस मेनेजमैंट की बैठक के दौरान उन्होने कहा कि मध्यप्रदेश में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए प्रदेश में 15 जनवरी से लेकर 31 जनवरी तक कक्षा पहली से 12वीं के सभी सरकारी और प्रायवेट स्कूल बंद रहेंगे, इसके साथ ही सभी रैलियों और जुलूस पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। वहीं शादी में सिर्फ 200 लोगों के शामिल होने की अनुमति। वहीं प्रदेश में सभी बड़े आयोजनों पर रोक लगा दी गई है। इसके साथ ही किसी हॉल में 50त्न क्षमता के साथ ही आयोजन होंगे। स्टेडियम में भी 50प्रतिशत क्षमता के साथ खेलों का आयोजन किया जाएगा।
बढ़े आयोजनों पर लगाई रोक
लगातार बढ़ रहे कोरोना को ध्यान में रखते हुए शुक्रवार को मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित क्राइसिस मेनेजमैंट की बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में बढ़े आयोजन नहीं किए जाएगें। उन्होने कमिश्नर, और कलेक्टर को वर्चुअल बैठक में निर्देशित किया कि आगामी आदेश तक कड़ाई से लागू नियमों का पालन कराया जाए। बतादें कि प्रदेश में इन दिनों कोरोना की तीसरी लहर का प्रकोप दिनो-दिन बढ़ता ही जा रहा है। लिहाजा मुख्यमंत्री ने शादी समारोह और जलूस और आंदोलनों पर नए नियम लागू किए है। जहां शादि समारोह में मात्र 200 लोग ही एकत्र हो सकेगें। वहीं आंदोलन और मेला, व धार्मिक आयोजनों सहित राजनैतिक आयोजनों पर रोक लगा दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here